Justified use and precautions of pesticide chemicals - Krishisewa

Justified use and precautions of pesticide chemicals

किटनाशको का स्वभाव जहरीला होने के कारण उनके उपयोग के दौरान किसानो, खेत में काम करने वाले मजदूरो एवं जनवरो के स्वास्थ पर बुरा असर होने का खतरा बना रहता है। किटनाशको का संतुलित एवं अनुचित मात्रा पर्यावरणीय घटकों पर प्रतिकुल प्रभाव डालता है।

इसलिए किटनाशको को कृषि वैज्ञानिक के सलाह परामर्श से न्यायसंगत उपयोग व स्वास्थ की सुरक्षा को देखते हुऐ इस्तेमाल करना चाहिए। लेकिन बहुत से किसानों को किटनाशको कि उचित मात्रा व सुरक्षा के बारे में ज्ञान नही होता है। या इसे महत्व नही देते है।

किटनाशको से स्वास्थ कि सुरक्षा एवं प्र्यावरण को टिकाऊ बनाये रखने के लिए कृषि प्रसार सेवको, उद्योगो एवं खेतो में काम करने वाले मजदूरों का यह एक कर्तव्य है। कि किटनाशको से सुरक्षा के उपायो को जन जन तक पहुँचाये।

  • फुटपाथ डीलरों या गैर-लाइसेंस प्राप्त व्यक्ति से कीटनाशक न खरीदें।
  • पूरे सीजन के लिए थोक में कीटनाशक न खरीदें।
  • कंटेनर पर बिना अनुमदित लेबल के कीटनाशक न खरीदें।
  • कभी भी समाप्त हो चुकी अवधि वाला कीटनाशक न खरीदें।
  • लीक/ढीले/गैर-सीलबंद कंटेनर वाले कीटनाशक न खरीदें।
  • घर के परिसर में कीटनाशक कभी भी संग्रहित न करें।
  • कभी भी मूल कंटेनर से कीटनाशक दूसरे कंटेनर में स्थानांतरित न करें।
  • खरपतवारनाशक के साथ कीटनाशक को संग्रहित न करें।
  • बच्चों को संग्रहण वाली जगह पर प्रवेश न करने दें।
  • कीटनाशक धूप या बारिश के पानी के संपर्क में नहीं आना चाहिए।
  • कभी भी भोज्य/चारेवाली/अन्य खाद्य सामग्री के साथ कीटनाशक का परिवहन न करें
  • कभी भी सिर, कंधे या पीठ पर थोक में कीटनाशक न ले जाए।
  • मैले या स्थिर पानी का प्रयोग न करें।
  • सुरक्षात्मक वस्त्र पहने बगैर कभी भी छिड़काव वाला घोल न तैयार करें।
  • कीटनाशक/इसका घोल शरीर के किसी भी अंग पर न गिरने दें।
  • उपयोग के लिए कंटेनर के लेबल पर दिए गए निर्देशों को पढ़ने से कभी भी परहेज न करें।
  • तैयार करने के 24 घंटे के बाद कभी बच गए छिड़काव वाले घोल का उपयोग न करें।
  • दानो को पानी के साथ न मिलाए।
  • स्प्रे टैंक को सूंघे नहीं।
  • अधिक मात्रा का प्रयोग न करें इससे पौधों का स्वास्थ्य और पर्यावरण प्रभावित हो सकता है।
  • कीटनाशक के छिड़काव के दौरान न खाएं, न पिएं, न धूम्रपान करें या चबाएं।
  • रिसाव वाले या दोषपूर्ण उपकराणों का प्रयोग न करें।
  • दोषपूर्ण/सिफारिश न किए गए नोजल का उपयोग न करें अवरूद्ध(क्लाग्ड) नोजल को मुंह से न फूंके/साफ करें. इसकी बजाय स्प्रेंयर से बंधे टूथ ब्रश का उपयोग करें।
  • खरपतवारनाशक और कीटनाशक दोनों के लिए एक ही स्प्रेयर का उपयोग न करें।
  • सिफारिश की गई मात्रा और सांद्रता की तुलना में अधिक मात्रा और सांद्रता का प्रयोग न करें।
  • गर्म धूप वाले दिन या तेज हवा की स्थिति में छिड़काव न करें।
  • बारिश से बिल्कुल पहले और बारिश के तुरंत बाद छिड़काव न करें।
  • बैटरी चालित यूएलवी स्प्रेयर से छिड़काव के लिए ईमल्सीफिएबल सांद्र फार्मूलेशन का उपयोग नहीं करना चाहिए।
  • हवा की दिशा के विपरीत छिड़काव न करें।
  • कीटनाशक मिलाने के लिए उपयोग में लाए गए कंटेनर और बाल्टी का पूरी तरह धुलने के बाद भी घरेलू उद्देश्य के लिए कभी भी उपयोग नहीं करना चाहिए।
  • बिना सुरक्षात्मक वस्त्र पहने छिड़काव के बाद तत्काल उपचारित खेत में कभी भी प्रवेश न करें।
  • बच गया छिड़काव वाला घोल तालाब या जलक्षेत्र आदि के पास नहीं बहाना चाहिए।
  • कीटनाशकों के खाली कंटेनरों का अन्य सामग्रियों के संग्रहण के लिए फिर से इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।
  • नहाने/कपड़े धोने से पहले कभी भी खान-पान/धूम्रपान न करें।
  • चिकित्सक को विषाक्तता के लक्षण न दिखाकर जोखिम न लें क्योंकि इससे रोगी का जीवन खतरे में पड़ सकता हैं।

खरीदते समय सावधानी-

  1. केवल वैध लाइसेंस वाले पंजीकृत कीटनाशक डीलरों से ही कीटनाशक/जैव कीटनाशक खरीदें।
  2. निर्दिष्ट क्षेत्र में एकल परिचालयन के लिए बस केवल आवश्यक मात्रा में ही कीटनाशक खरीदें।
  3. कीटनाशक के कंटेनरों/पैकेटों पर अनुमोदित लेबल देखें।
  4. लेबल पर बैच नंबर, पंजीकरण संख्या, निर्माण/समाप्ति की तिथि देखें।
  5. कंटेनर में अच्छी तरह से पैक किये गए कीटनाशक ही खरीदें।

भंडारण के दौरान मे सावधानी-

  • कीटनाशक घर के परिसर से दूर जमा करें।
  • कीटनाशक उसके मूल कंटेनर में ही रखे।
  • कीटनाशक/खरपतवारनाशक को अलग-अलग रखना चाहिए।
  • जहां कीटनाशक संग्रहित हैं वह क्षेत्र चेतावनी संकेत से चिह्नित करना चाहिए।
  • कीटनाशक बच्चों और पालतू पशुओं की पहुच से दूर संग्रहित किए जाने चाहिए।
  • संग्रहण की जगह सीधी धूप और बारिश से अच्छी तरह से सुरक्षित होनी चाहिए।

हैंडलिंग करते समय सावधानी-

  • परिवहन के दौरान कीटनाशक अलग रखें।
  • प्रयोग की जगह तक थोक मात्रा में कीटनाशक सावधानी से ले जाने चाहिए।
  • छिड़काव वाला घोल तैयार करते समय हमेशा स्वच्छ पानी का उपयोग करें।
  • पूरा शरीर ढंकने के लिए सुरक्षात्मक वस्त्रों यानी दस्ताने, फेस मास्क, टोपी, एप्रन, पूरी पतलून, आदि का प्रयोग करें।
  • छिड़काव वाले घोल के बहाव से हमेशा अपनी नाक, आंख, कान हाथ आदि बचाएं।
  • उपयोग करने से पहले कीटनाशक के कंटेनर लेबल पर दिए गए निर्देशों को ध्यान पूर्वक पढ़े।
  • आवश्यकतानुसार घोल तैयार करें।

दानेदार कीटनाशक इस तरह से प्रयोग किया जाना चाहिए-

  1. छिड़काव वाला टैंक भरते समय कीटनाशक का घोल छलकाने से बचें।
  2. हमेशा कीटनाशक की सिफारिश की गई मात्रा का उपयोग करें।
  3. ऐसी कोई गतिविधि नहीं की जानी चाहिए जिससे आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।

कीटनाशक प्रयोग के लि‍ए उपकरणों का चयन-

  1. सही प्रकार के उपकरणों का चयन करें।
  2. सही आकार की नलिका (नोजल)का चयन करें।
  3. कीटनाशकों और खरपतवारनाशी के लिए अलग-अलग स्प्रेयर का प्रयोग करें।

रसायन छिड़काव घोल प्रयोग में सावधानी-

  • केवल सिफारिश की गई मात्रा और जलमिश्रित घोल का प्रयोग करें।
  • छिड़काव धूप वाले दिनों में करना चाहिए।
  • प्रत्येक छिड़काव के लिए सिफारिश किए गए स्प्रेयर का उपयोग करें।
  • छिड़काव हवा की दिशा में किया जाना चाहिए।
  • छिड़काव करने बाद स्प्रेयर और बाल्टी को डिटजेंट/साबुन का उपयोग करके साफ पानी से धोया जाना चाहिए।
  • छिड़काव के तुरंत बाद खेत में पशुओं/मजदूरों के प्रवेश से बचें।

छिड़काव करने के बाद सावधानी-

  1. बच गया छिड़काव वाला घोल सुरक्षित जगह अर्थात बंजर निर्जन क्षेत्र में निपटाया जाना चाहिए।
  2. उपयोग में लाया गया/खाली कंटेनर पत्थर/डंडे से कुचल दिया जाना चाहिए और जल स्त्रोतों से दूर मिट्टी में गहरे में दफन करना चाहिए।
  3. खाने/धूम्रपान करने से पहले साफ पानी और साबून से हाथ और चेहरा धोएं।
  4. विषाक्तता के लक्षण दिखाई देने पर प्राथमिक चिकित्सा दे और मरीज चिकित्सक को दिखाए. साथ ही चिकित्सक को खाली कंटेनर भी दिखाए।

 


 Authors:

लोकेश कुमार टिण्डे, मिथलेश कुमार, अरबिन्द कुमार साई

1पी.एच.डी. ( आई. सी. ए. आर.-एस. आर. एफ.) बिधान चन्द्र कृषि विश्वविद्यालय (वेस्ट बंगाल)

2,3 इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर (छत्तीसगढ़)

This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.