Agricultural work to be carried out in the month of July

धान फसल:

  • धान की मध्‍यम व देर से पकने वाली प्रजाति‍यों की रोपाई पहले पखवाडे में, शीघ्र पकने वाली कि‍स्‍मों की रोपाई दूसरे पखवाडे में तथा सुगन्‍धि‍त कि‍स्‍मों की रोपाई अन्‍ति‍म पखवाडे मे कर दें।
  • धान की रोपाई से पूर्व 25 कि‍ग्रा / हैक्‍टेअर की दर से जि‍ंक सल्‍फेट खेत में मि‍ला दें परन्‍ते ध्‍यान रखें कि‍ फास्‍फोरस वाले उर्वरकों के साथ जि‍ंक सल्‍फेट कभी भी ना मि‍लाऐं।
  • धान में खैरा रोग के लक्षण दि‍खाई देने पर प्रति‍ हैक्‍टेयर 5 कि‍ग्रा जि‍ंक सल्‍फेट व 2.5 कि‍ग्रा चूना 800 लि‍टर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें।

सब्‍जि‍यॉं :

  • भि‍ण्‍डी, सेम, लोबि‍या, चौलाई तथा कद्दू वर्गीय सब्‍जि‍यों की नि‍म्‍न प्रजाति‍यों की बुआई करे।
  • लोब्‍ि‍ाया- पूसा सुकोमल
  • लौकी- पूसा नवीन, पूसा संतुष्‍टि‍, पूसा हाईब्रि‍ड 3
  • करेला- पूसा दोमौसमी, पूसा औषधि‍, पूसा हाईब्रि‍ड 2
  • चि‍कनी तोरई- पूसा स्‍नेहा
  • धारीदार तोरई- पूसा नूतन
  • पेठा- पूसा उज्‍जवल, पूसा उर्मी, पूसा श्रेयाली

फल फसलें:  

  • आम की आम्रपाली, मल्‍लि‍का, दशहरी, पूसा सूर्य व पूसा अरूणि‍मा कि‍स्‍में तोडने के लि‍ए तैयार हो जाती हैं। फलों को इथ्रेल के घोल (1.8 मि‍ली प्रति‍ लीटर गुनगुने पानी मे) में 5 मि‍नट रखकर समान रूप से पकाऐं।
  • आम, अमरूद तथा पपीते में फल मक्‍खी की रोकथाम के लि‍ए इमि‍डाक्‍लोप्रि‍ड 3 मि‍ली दवा 10 लीटर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें तथा मि‍थाईल युजि‍नोल फेरामोंन ट्रैप का प्रयोग करें।
  • नींबू वर्गीय फलों के पेडों में जड गलन तथा फाइटॉपथोरा बीमारी की रोकथाम के लि‍ए पौधों की जडों मे रि‍डोमि‍ल 2.5 ग्राम 1 लि‍टर पानी में घोलकर तथा अलीटे 60 से 120 ग्राम 1 लीटर पानी में घोलकर छि‍डकाव करें। 

अरहर:

  • अरहर की उन्‍नत कि‍स्‍मों की बूआई करें। 
  • एक हैक्‍टेयर क्षेत्र के लि‍ए 10 से 15 कि‍लो बीज की आवश्‍यकता होगी।
  • राइजोबि‍यम कल्‍चर से उपचारि‍त बीज 60 -75 X 15-20 सेमी की दूरी पर बोऐं।
  • अरहर की प्रमुख कि‍स्‍मे: पूसा 991, पूसा 992, पूसा 2001 व पूसा 2002 है।
  • उपरोक्‍त सभी कि‍स्‍में 140 से 145 दि‍न मे पक जाती है जो दोहरे फसल चक्र के लि‍ए उपयुक्‍त है।

बाजरा:

  • बाजरे की बूआई 15 जुलाई के बाद पूरे माह की जा सकती है। 
  • एक हैक्‍टेयर क्षेत्र के लि‍ए 4 से 5 कि‍लो बीज की आवश्‍यकता होगी।
  • बाजरे की प्रमुख कि‍स्‍मे: पूसा 322, पूसा 23 है।

पूसा कृषि‍ पंचाग, भा.क्अनू.सं.


जो ऑनलाइन है

We have 140 guests and no members online

यहां पर हिंदी भाषा में कृषि संबधित लेख प्रकाशन हेतू आमंत्रित हैं।

लेख सबमिट कैसे करें?